6 अप्रैल को खत्म होगा दर्शकों का इंतजार, रिलीज होगी डमरू


bredcrumb

Bhojpuri Movies

oi-Shweta

By Shweta K

|

भोजपुरी की बहुचर्चित फिल्‍म ‘डमरू’ का रिलीज डेट आज आउट कर दिया गया है। फिल्‍म ‘डमरू’ 6 अप्रैल से देशभर के सिनेमाघरों में भोजपुरी संस्‍कृति और मिट्टी की सुंगध लेकर आ रही है, जो भोजपुरी सिनेमा में जान फूंकने का भी काम करेगी। एक अलग ही तर‍ह के कंसेप्‍ट पर बनी फिल्‍म ‘डमरू’ की गूंज भोजपुरी सिने प्रेमियों को गुदगुदायेगी, हंसायेगी और मनोरंजन के हर पहलुओं से रूबरू करायेगी।

इस फिल्‍म का निर्माण में काफी शानदार तरीके से किया गया है। इसके निर्देशक रजनीश मिश्रा हैं, जो पहले भी भोजपुरी सिनेमा में लीक से हट कर फिल्‍में बना चुके हैं।रजनीश मिश्रा ने फिल्‍म ‘मेंहदी लगा के रखना’ और ‘मैं सेहरा बांध के आउंगा’ के जरिये भोजपुरी सिनेमा की नई पहचान गढ़ने की कोशिश की, जिसमें वे काफी हद तक सफल भी हुए।

फिल्‍म ‘डमरू’ उसी सीरीज की एक फिल्‍म है, जो भोजपुरी सभ्‍यता, संस्‍कृति और समाज की आत्‍मा के करीब है। वहीं, फिल्‍म ‘मेंहदी लगा के रखना’ में पिता की भूमिका में नजर आने वाले इंडस्‍ट्री के वरसटाइल एक्‍टर अवधेश मिश्रा इस बार फिल्‍म ‘डमरू’ में भगवान शिव की भूमिका में होंगे।

हाल ही में वीनस म्‍यूजिक द्वारा जारी फिल्‍म ‘डमरू’ के ट्रेलर में अवधेश मिश्रा तांडव करते नजर आये, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा है। अमूमन वे भोजपुरी स्‍क्रीन पर निगेटिव रोल में नजर आते हैं। मगर रजनीश मिश्रा ने रिस्‍क लेकर अवधेश मिश्रा अपनी तीनों फिल्‍मों में पॉजेटिव रोल में कास्ट किया, जिसमें हंड्रेड परसेंट सफल रहे हैं।

इसके अलावा भोजपुरिया सुपर स्‍टार खेसारीलाल यादव भी फिल्‍म ‘डमरू’ में अपनी छवि के विपरीत अभिनय कौशल का प्रदर्शन करेंगे। जबकि पंजाब के लहलहाते सरसों की सुगंधित हवा अब भोजपुरी की अमराइयों में लहलहायेगी। इस दिलकश हवा का नाम है याशिका कपूर है, जो खेसारीलाल यादव के अपोजिट हैं। और यह उनकी डेब्‍यू फिल्‍म है।

फिल्‍म ‘डमरू’ के निर्माता प्रदीप कुमार शर्मा हैं, जो खुद भी भोजपुरिया माटी से आते हैं और उनकी सोच भोजपुरी सिनेमा के स्‍तर को उपर उठाना है। इसी सोच के तहत वे भोजपुरिया संस्‍कार, भाषा और मर्यादा के मर्म दुनिया के सामने रखने का प्रयास करते रहते हैं।

उनकी इसी सोच की उपज है फिल्‍म ‘डमरू’। इस फिल्‍म ने रिलीज से पहले ही लोकप्रियता के कई कीर्तिमान स्‍थापित किये, जिस वजह दर्शकों के अलावा पूरी भोजपुरी फिल्‍म इंडस्‍ट्री को इस फिल्‍म का इंतजार है। फिल्‍म ‘डमरू’ के बारे में यह भी दावा किया गया है कि यह भोजपुरी सिनेमा पर लगने वाले अश्‍लीलता के दाग से मुक्ति दिलायेगी और भोजपुरी सिनेमा से दूर हुए भोजपुरी दर्शकों की धारणा को पवित्र करने के लिए गंगाजल का काम करेगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Discover

Sponsor

Latest

Why ‘Uncle Frank’ Rejects Its Own Compelling Story

“Uncle Frank” wastes so many natural resources it’s hard to know where to begin.Let’s start with a killer cast, from the underrated Paul...

‘Loudest Voice’ Savages News Aimed at Red State USA

“The Loudest Voice” could have gone all in on the sexual abuse allegations against Fox News founder Roger Ailes.That’s clearly not the point...

सूरज पे मंगल भारी बॉक्स ऑफिस: 8 महीनों बाद रिलीज़ हुई पहली फिल्म, जानिए तीन दिनों में कितनी हुई कमाई

<!----> सूरज पे मंगल भारी बॉक्स ऑफिस ओपनिंग फिल्म 15 नवंबर को 8.5 प्रतिशत ऑक्यूपेंसी के साथ रिलीज़ हुई। पहले दिन...

Vince Vaughn Is So Money in Body Swap Shocker ‘Freaky’

The problem with too many remakes, reboots and re-imaginings is clear. They have little reason for existing beyond a quest for cash.“Freaky,” a...

filmibeat Page Not Found